उत्तर प्रदेश

देश में ठण्ड पसरी है पर उत्तर प्रदेश चुनाव पास आते ही वहां की राजनीति में गर्मी बढ़ गयी है। उत्तर प्रदेश में हाल ही में विधानसभा चुनावों की घोषणा हुई है। राजनीतिक दल लोगों को लुभाने में लगें हैं। तरीका चाहे कुछ भी हो, राजनीतिक दलों का मकसद सिर्फ भीड़ जुटाना होता है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है उत्तर प्रदेश के मथुरा में।
मथुरा में राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) की एक जनसभा में आयोजकों ने भी एक अनूठा तरीका निकाला। भीड़ को आकर्षित करने के लिए हरयाणा से हरयाणवी गायक और महिला डांसर बुलाये गए। गौरतलब है की हरयाणा में महिला डांसरों का बहुत बोलबाला है। कोई भी सांस्कृतिक आयोजन हो महिला डांसरों को जरूर बुलाया जाता है। भीड़ में मंच पर नाच रही इन हसीनाओं का हर कोई दीवाना होता है। इसी बात का फायदा उठाया आयोजकों नें।
राजनीति को पसंद ना करने वाले भी पहुंचे ठुमके देखने :
जनसभा में कोई नेताओं को सुनने आया हो या ना पर ठुमके देखने वालों की भीड़ देखने लायक थी। रैली में कई ऐसे लोग भी पहुचे जिनको पता भी नहीं था की जनसभा कौनसे दल की है। बड़े बूढ़ों समेत बच्चे भी ठुमके देखने पहुंचे। इलाके वालों ने जनसभा का जमकर लुफ्त उठाया। लेकिन अपने ही अंदाज में।

Also Read-दलितों के नाम पे कर रहे प्रचार

पार्टी कार्यकर्ताओं नें उड़ाए जमकर नोट :
गोवर्धन तहसील के मगोर्रा इलाके में आयोजित इस जनसभा के शुरू होने के साथ ही महिला डांसरों के ठूमके भी शुरू हो गए। पार्टी कार्यकर्ताओं नें नाच रही डांसरों पे जमकर नोट भी उड़ाए। डांसर नाच रही थी और कार्यकर्ता पैसों की बारीश कर रहे थे।
कुँवर नरेंद्र सिंह को किया जाना था प्रत्याशी घोषित :
रविवार को कुँवर नरेन्द्र सिंह को रालोद का प्रत्याशी घोषित किया जाना था। जनसभा में रालोद नेता जयंत चौधरी भी शामिल हुए। जयंत चौधरी रालोद के सांसद भी रह चुके हैं।
गौरतलब है की उत्तर प्रदेश में आचार सहिंता लागू है। इसलिए चुनाव आयोग इस मामले में एक्शन ले सकता है।आचार सहिता के उलन्घन का ये पहला मामला नहीं है। हर चुनाव में ऐसे कई मामले सामने आते हैं।

नोट: फ़ोटो सांकेतिक है।

Leave a Reply