कुणाल सिंह

Kunal_Singh a Counsellor by profession, Motivator and Blogger by passion. A Native of Gaya,Bihar.

बिहार में रोजगार :- धांधली और पैसों का खेल।।।

कल परसो की बात है, बिहार पुलिस के परीक्षा परिणाम आये है।। परिणामो में धांधली सामने आने के दावे हो रहे है, और व्यापक स्तर पर धांधली का अंदेशा है, फिर से पूरे बिहार प्रदेश के शाषण तंत्र, शिक्षा व्यवस्था और शिक्षा माफियाओं की बाते होने लगी है। बिहार कभी इन सब बातों से अछूता …

बिहार में रोजगार :- धांधली और पैसों का खेल।।। Read More »

सफर मेरा :- तुझसे परे, साथ तेरे !!!

जुगणुयों जैसा था मैं, छोटा सा परन्तु प्रकाशवान, लघु सा, पर विचरने वाला पूरा अकल्पनीय अथाह आसमान, ताजे हवाओं की भांति यहाँ से वहाँ गतिमान, सपने थे कुछ मेरे भी, लक्ष्यों से परे, दिलों की मंजिले सरीखे, अपनों में पला, बढ़ा, सबकी आंखों का तारा, माँ का प्यार, बाबा का अभिमान, भाई-बहनों का भरोषा, दोस्तो …

सफर मेरा :- तुझसे परे, साथ तेरे !!! Read More »

गायों की दुर्गति:- कौन जिम्मेदार हम और आप

योगी आदित्यनाथ के उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री बनते ही राजनितिक गलियारों में सबसे ज्यादा चर्चे इसी बात के थे कि क्या योगी जी अबैध कसाईखानों पर रोक लगाएंगे और प्रदेश से अबैध मांस के कारोबार पर लगाम कस पाएंगे? और योगी जी ने सर्वप्रथम सबकी उम्मीदों पर खरा उतरते हुए सारे अबैध कसाईखानों पर ताला लगवा …

गायों की दुर्गति:- कौन जिम्मेदार हम और आप Read More »

तुम हो न साथ मेरे!!!

आज, मेरी साप्ताहिक छुट्टी थी। मैंने काफी कुछ सोच रखा था आज के लिए, काफी दोस्तों से मिलना था, कुछ अधूरे काम भी निपटाने थे। इस भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में यही एक दिन मेरा होता जिसका मैं अपनी मर्जी का मालिक होता था। काफी देर से जागने के बाद मैंने घडी पर निगाह डाली …

तुम हो न साथ मेरे!!! Read More »

शिक्षा व्यवस्था:- संतोषजनक या जरूरत सुधार की????

आज से जब 15 बर्ष पहले सन 2001 में तत्कालीन प्रधानमंत्री की दूरदर्शिता स्वरुप “सर्व शिक्षा अभियान” परियोजना प्रारम्भ की गयी थी तो काफी उम्मीदें थी और काफी सारे अच्छे सपने देखे गए थे देश के भविस्य नानिहालो के लिए।।।इसके अंतर्गत मुफ्त और अनिवार्य शिक्षा के प्राबधान को मौलिक अधिकार बनाया गया था।। #कस्तूरबागांधी बिद्यालय, …

शिक्षा व्यवस्था:- संतोषजनक या जरूरत सुधार की???? Read More »

हिन्दू पर्वो पर दोगलिनीति की मार:- नतीजा श्रद्धालुयों की मौत

मकर सक्रांति की सारी खुशियां देर शाम ढले ही गहरे दुःख में बदल गयी जब संध्या में ये खबर मिली की गंगा दियारा से पतंगवाजी के बाद संध्या पहर बापसी में 70 लोगो से भरी हुई नाव NIT घाट के समीप ही डूब गई।उन 70 डूबने वालों में से 27 लोगो के शव अभी तक …

हिन्दू पर्वो पर दोगलिनीति की मार:- नतीजा श्रद्धालुयों की मौत Read More »

विराट कोहली: बढ़ता हुआ कद, बिश्वक्रिकेट में

2 मार्च 2008, UNDER 19 ICC CRICKET WORLD CUP अभी अभी भारत ने अपनी पारी 45.5 ओवरों में 159 रनों के सामानजनक स्कोर के साथ समाप्त किया था। जिसके जवाब में बारिश के कारण दक्षिण अफ्रीका को 25 ओवरों में 116 रनों का लक्ष्य दिया गया था जो कही से भी मुश्किल नहीं लग रहा …

विराट कोहली: बढ़ता हुआ कद, बिश्वक्रिकेट में Read More »

पठानकोट हमला:- एक साल बाद हम??

2-5 जनवरी 2016, एक वर्ष पहले! सारे लोग अपने अपने घरों में चैन से सो ही रहे थे की अचानक से टेलीविज़न पर समाचार आने लगे के पठानकोट स्थित हमारे वायुसेना कैंप पर तड़के सुबह आतंकवादियों ने हमला कर दिया और सोये हुए हमारे  जवानों पर अत्याधुनिक हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी जिस …

पठानकोट हमला:- एक साल बाद हम?? Read More »

संन्यास, महेंद्र सिंह धोनी का: परिणाम दवाब का या सही समय पर लिया गया सही फैसला।

भारतीय टेस्ट टीम के पूर्व कप्तान और एकदिवसीय और T-20 टीम के तत्कालीन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आज इंग्लैंड के खिलाफ जल्द ही शुरू हो रहे एकदिवसीय और टी-20 श्रृंखला के पहले अचानक से ही सन्यास लेने  का फैसला कर के न सिर्फ भारतीय क्रिकेट बल्कि  पूरे  विश्व क्रिकेट को संकेत में डाल दिया। …

संन्यास, महेंद्र सिंह धोनी का: परिणाम दवाब का या सही समय पर लिया गया सही फैसला। Read More »

तैमूर :- प्रेम सैफीना का, या अपनों के प्रेम पर भावनात्मक प्रहार

जैसे ही खबर सुनी के नवाबों के खानदान में नन्हे वारिस ने कदम रखा मुझे भी बहुत ख़ुशी हुयी, पर अगले ही क्षण मेरी सारी ख़ुशी छूमंतर हो गयी, कारण था इस नन्हे मेहमान का नामकरण। जैसा कि आपको ज्ञात हो इस बच्चे का नाम रखा गया “तैमूर” जो असल में एक बहुत पुराने और …

तैमूर :- प्रेम सैफीना का, या अपनों के प्रेम पर भावनात्मक प्रहार Read More »