Offbeat & Personal

एक युवा का यात्रा वृतांत गाव का

सावन का महीना हो और गांव न जाया जाए तो मेरे लिए बड़ा विचित्र बात होगी। चंद घण्टो पहले गांव की मिट्टी को माथे से लगा के आया हूँ।हाँ उसी मिट्टी को जिसके धूलि में खेलते खेलते 18 वर्ष न जाने कैसे गुम हो गए ,पता तक नही चला। वैसे तो ग्रन्थो , महाकाव्यों, आदि …

एक युवा का यात्रा वृतांत गाव का Read More »

ट्रेन के सफर का आनन्द नचिकेता के संग

ट्रेन में हूँ , गया केलिए।आनन – फानन में टिकेट कइसहुँ धक्का – मुक्की करके कटा लिए हैं।किसी तरह शीट मिल गयी है।आम तौर पर भारतीय रेल के पैसेंजर ट्रेनों में चढ़ जाना पहली सफलता होती है , बैठ जाना दूसरी और उतर जाना तीसरी सफलता होती है। और अगर आप खड़े के खड़े रह …

ट्रेन के सफर का आनन्द नचिकेता के संग Read More »