कोलकता में पकड़े गए प्लास्टिक के अंडे

0
प्लास्टिक के अंडे

बचपन से हम लोग सुनते आये हैं कि ‘संडे हो या मंडे, रोज खाएं अंडे’। ऐसा इसलिए भी कहा जाता है क्योंकि डॉक्टर्स के मुताबिक़, अंडे में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है और ये स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन कोलकाता के बाजार में हाल ही में प्लास्टिक के अंडे की बिक्री का एक अनोखा मामला सामने आया है। खबर है कि कार्रवाई के दौरान कोलकाता पुलिस ने बीते शुक्रवार एक अंडा विक्रेता को नकली अंडे यानी प्लास्टिक के अंडे बेचने के जुर्म में गिरफ़्तार किया है।

पूरी खबर ये है कि कोलकाता पुलिस के प्रवर्तन विभाग की एक अधिकारी अनिता कुमार ने बीते गुरुवार को पार्क सर्कस बाज़ार से कुछ अंडे खरीदे थे।

अनिता ने पुलिस में मामला दर्ज कराया कि दुकानदार ने उन्हें नकली अंडे बेच दिए हैं, क्योंकि जब अंडों को तवे पर डाला गया, तो यह प्लास्टिक की तरह पिघलने लगे। उन्होंने बताया कि नकली अंडा तवे पर डालने पर अजीब तरह से प्लास्टिक की तरह फैल जाता है।

अनिता ने कहा, “मैंने अपना संदेह दूर करने के लिए इसमें आग लगाई और इसने आग पकड़ ली। इसका खोल भी प्लास्टिक की तरह दिखता है। मुझे विश्वास था कि यह कुदरती अंडा नहीं है और एक मां होने के नाते मैंने महसूस किया मुझे लोगों को इससे सावधान करना चाहिए।”

अनिता की शिकायत के बाद कोलकाता नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग ने बाजारों में प्लास्टिक से बने नकली अंडों की बिक्री की जांच का आदेश दिया। काउंसिल के मेयर (हैल्थ) अतिन घोष ने बताया कि अनिता कुमार ने जहां से अंडे खरीदे, उस विक्रेता, जिसका नाम शमीम अंसारी है, को गिरफ्तार कर लिया गया है। अंसारी के पास से नकली अण्डों की एक क्रेट भी बरामद की गई, जिसे जांच के लिए लैबोरेटरी भेज दिया गया है। इसके साथ ही शहर के दूसरे बाज़ारों में भी छापेमारी की गई और वहां से भी नकली अंडों की कई क्रेट बरामद की गयी हैं।

LEAVE A REPLY