muscles-box-pear-guy-sport-group-146467

यदि जिम जा रहे हैं और मसल्स बिल्ड करना चाहते हैं तो जरूरी नही कि आप मासाहार का ही सेवन करें। मसल्स को शाकाहार के जरिये भी बढ़ाया जा सकता है। इसमें खासतौर पर दूध, पनीर, चक्का आदि आते है। आमतौर पर इन्हे कैलेस्ट्रोल बढ़ाने वाला फ़ूड कहा जाता है, लेकिन इनमें प्रोटीन भी रहता है, जो वजन कम करने और मसल्स गेन के लिए सुपरफूड माना जाता है। जानिये इनके बारे में:

1. ब्राउन राइस:

मसल्स बिल्डिंग में ब्राउन राइस अप्रत्यक्ष लेकिन अहम् भूमिका निभाता है। ब्राउन राइस ग्लाइसेमिक इंडेक्स बड़ी तेजी से कम करता है। इससे दिनभर के लिए मासपेशियों और शरीर को ऊर्जा मिलती रहती है। कठोर ट्रेनिंग के दौरान यही ऊर्जा शरीर के लिए ईंधन का काम करती है और नए मसल्स और टीशूज बनाती है।

2. ओट्स:

ओट्स भी कार्ब का अच्छा स्त्रोत है। यह जीआई वैल्यू में कमी लाता है। इससे बिना शुगर क्रश के शरीर में ऊर्जा सतत बनी रहती है। इसमें भारी मात्रा में फाइबर होता है। यह भूख़ नही लगने देता है। इससे आंतो की सेहत अच्छि रहती है। साथ ही यह वेटलॉस में भी मददगार है।

3. रतालू:

जितनी भी सब्जियाँ और कन्द जिनमें कार्ब होता है उनमें रतालू सर्वश्रेष्ठ है। ग्लाइसेमिक इंडेक्स के मामले में यह काफी कम है जिसका अर्थ है कि यह शरीर में ऊर्जा बनाये रखता है। इसमें फाइबर भरपूर होता है। इसके साथ ही रतालू विटामिन ए और बी दोनों का ही अच्छा स्त्रोत माना जाता है।

Also Read-4 Foods That Helps You To reduce weight without going to Gym!

4. दूध:

जो लोग तेजी से मसल्स बनाने का काम करना चाहते हैं उनके लिए दूध एक अच्छा विकल्प है। एक्सरसाइज के बाद किसी भी समय दूध ले सकते है। दूध में भरपूर प्रोटीन और 8 जरूरी एमिनो एसिड्स होते हैं। ये अब मसल्स टीशू के साथ साथ ग्रोथ और मरम्मत के लिए अच्छा होते हैं। दूध में ज्यादा फैट होता है जो ग्रोथ वाले हार्मोन की मदद करता है। इससे भी ज्यादा मसल्स ग्रोथ होती है।

5. पनीर:

पनीर में 2 प्रमुख फैक्टर होते हैं जो मसल्स बिल्डिंग में योगदान देते हैं। पहला पनीर में भारी मात्रा में केसिन होता है। ये ऐसा डेरी प्रोटीन है जो खून में बहुत धीरे घुलता है। इसलिए सोने से पहले इसे लेना बॉडी बिल्डिंग के लिए अच्छा माना जाता है। इससे मसल्स को टिसू मिलते हैं। धीमी सप्लाई से सारी रात मसल बिल्डिंग प्रोटीन मिलता रहता है। दूसरा पनीर में कई ऐसे बैक्टीरिया होते हैं जो खाये हुए खाने को पचाने में मदद करेंगे।

6. ग्रीक योगर्ट:

यह पनीर की तरह ही होता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन होता है। ग्रीक योगर्ट यानी चक्का से मसल्स तो बढ़ेंगे ही साथ ही मसल्स सेल्स की सेहत भी अच्छी रहेगी। इसमें आंतो को दुरुस्त रखने के लिए पर्याप्त बैक्टीरिया भी होते हैं। इससे ऊर्जा ही नहीं प्रोटीन को अब्सॉर्ब करने की शक्ति भी बढ़ेगी।

Also Read-These 5 Amazing Things Will Happen! , When You Drink Water On An Empty Stomach After Waking Up!

Leave a Reply